मंगलवार, 23 जनवरी 2018

प्रसाद के नाटक चन्द्रगुप्त के पात्र

>प्रसाद के नाटक चन्द्रगुप्त के पात
चाणक्य (विष्णुगुप्त) : मौर्य्य साम्राज्य का निर्माता
चन्द्रगुप्त : मौर्य्यःसम्राट्
नन्द : मगधःसम्राट्
राक्षस : मगध का अमात्य
वररुचि (कात्यायन) : मगध का अमात्य
शकटार : मगध का मंत्री
आम्भीक : तक्षशिला का राजकुमार
सिंहरण : मालव गणमुख्य का कुमार
पर्वतेश्वर : पंजाब का राजा (पोरस)
सिकन्दर : ग्रीक विजेता
फिलिप्स : सिकन्दर का क्षत्रप
मौर्य्य-सेनापति : चन्द्रगुप्त का पिता
एनीसाक्रीटीज : सिकन्दर का सहचर
देवबल, नागदत्त, गणमुख्य : मालव गणतंत्र के पदाधिकारी
साइबर्टियस, मेगास्थनीज : यवन दूत
गान्धार-नरेश : आम्भीक का पिता
सिल्यूकस : सिकन्दर का सेनापति
दाण्ड्यायन : एक तपस्वी
नारीःपात्र
अलका : तक्षशिला की राजकुमारी
सुवासिनी : शकटार की कन्या
कल्याणी : मगध राजकुमारी
नीला, लीला : कल्याणी की सहेलियाँ
मालविका : सिन्धु देश की राजक्मारी
कार्नेलिया : सिल्यूकस की कन्या
मौर्य्य-पत्नी : चन्द्रगुप्त की माता
एलिस : कार्नेलिया की सहेली
Hindi Sahitya Vimarsh
UGCNET/JRF/SLET/PGT (हिन्दी भाषा एवं साहित्य) के
परीक्षार्थियों के लिए सर्वोत्तम मार्गदर्शक
Hindisahityavimarsh.blogspot.in
मुहम्मद इलियास हुसैन
E-mail : iliyashussain1966@gmail.com
Mobile : +91-9717324769

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें